शेयर मार्केट का गणित समझे आसान भाषा में

हेलो दोस्तों आज हमारी इस पोस्ट में शेयर मार्केट का गणित के बारे में पढ़ेंगे क्योंकि शेयर बाजार में भी एक सफल इन्वेस्टर बनना है तो आप को शेर बाजार की पूरी जानकारी समझना आवश्यक है और कई लोगों के मन में यह सवाल आता है कि शेयर बाजार का गणित क्यों सीखना चाहिए और इसके विभिन्न गणिती आंकड़ों का आकलन करना क्यों आवश्यक होता है और यह आपके प्रॉफिट को बढ़ाने का तरीका है

शेयर बाजार का गणित एक इन्वेस्टर को सही से इन्वेस्ट करने में हेल्प करता है और आपको अच्छे शेयर को समझने मैं सहायता करता है

इस पोस्ट में आप जानेंगे- hide

शेयर बाजार क्या है? (What is Share Market in Hindi)

सबसे पहले आपको यह पता होना चाहिए कि शेयर मार्केट के गणित के बारे में सीखने से पहले आपको शेयर बाजार क्या है? यह पूरी जानकारी होना आवश्यक है क्योंकि एक नए इन्वेस्टर को शेयर मार्केट समझना जरूरी है

शेयर मार्केट का मतलब है कि किसी भी कंपनी में कुछ हिस्सेदारी खरीदना जो कि उसके शेयर प्राइस पर डिपेंड करती हैं और जितने परसेंटेज उसकी हिस्सेदारी खरीदते हैं उतने के आप उस कंपनी में मालिक बन जाते हैं

अगर आपको शेयर बाजार क्या है? इसके बारे में पूरी जानकारी लेनी हो तो आप हमारी इस पोस्ट पर जा सकते हैं उसमें इसके बारे में पूरी जानकारी दी गई है विस्तार से

शेयर मार्केट का गणित समझे आसान भाषा में

शेयर मार्केट में सभी दिन लाखों लोग ट्रेडिंग करते हैं और उनमें से कुछ New होते हैं और कुछ पुराने भी होते हैं पुराने इन्वेस्टर अपने दिमाग से पैसे लगाकर अच्छा रिटर्न प्राप्त कर लेते हैं और नए इन्वेस्टर्स जो कि करोड़ों पैसा कमाने की लालच लेकर शेयर मार्केट में सारा पैसा लगा देते हैं और वह किसी भी कंपनी के शेयर में इन्वेस्ट कर देते हैं और उसी कारण सारा पैसा गवा देते हैं

और फिर शेयर बाजार बाजार को बुरा भला बोल कर निकल जाते हैं लेकिन उनको शेयर मार्केट का गणित कैसे समझे के बारे में कुछ पता नहीं होता शेयर मार्केट में सफल इन्वेस्ट बनने के लिए शेयर मार्केट के गणित के बारे में पता होना आवश्यक है तो चलिए इस पोस्ट में हम सकते हैं कि शेयर मार्केट का गणित क्या होता है

शेयर मार्केट का गणित मैं पहले यह समझना होगा कि आप जिस कंपनी में इन्वेस्ट कर रहे हैं उस कंपनी की मार्केट capitalisation को समझना जरूरी है 

जैसे की मान लीजिए कि की Facebook के शेयर की कीमत ₹200 हैं और फेसबुक के पास ऐसे ही  2,000 Share हैं तो Facebook की मार्केट capitalisation 2000 × 200 = 400,000 लाख हो जाएगी

इसी तरह किसी भी कंपनी की मार्केट capitalisation का पता लगा सकते हैं किसी भी कंपनी के शेयर  खरीदने से पहले आपको यह तीन तरह के मार्केट capitalisation जानना जरूरी है– 1.Large cap, 2.Mid cap, 3.Small cap यह हम सीखेंगे कि यह तीन प्रकार की मार्केट capitalisation क्या होती है इसलिए जानते हैं-

1. Large cap

जिस कंपनियों की मार्केट capitalisation 20 हजार करोड़ से ऊपर होती हैं वह कंपनियां Large cap के अंदर आती हैं

इन कंपनियों में लॉन्ग टर्म इन्वेस्ट करने से अच्छा रिटर्न प्राप्त होता है लेकिन इन कंपनियों में रिस्क कम होती है और उसके साथ-साथ रिटर्न भी कम प्राप्त होता है

 किसी भी कंपनी में इन्वेस्ट करने से पहले उस कंपनी का पूरा रिसर्च कर ले उससे आपको अच्छा रिटर्न प्राप्त होगा

2. Mid cap

जिस कंपनियों की मार्केट capitalisation 5000 करोड़ से लेकर 20000 करोड़ तक होती हैं वह कंपनियां Mid cap के अंदर आती हैं  वह कंपनियां Mid Cap के अंदर आती हैं

 इन कंपनियों में इन्वेस्ट करना बहुत रिस्की माना जाता है लेकिन इनमें रिटर्न भी ज्यादा मिलता है इनमें इन्वेस्ट करने से पहले आपको पूरी जानकारी होनी चाहिए उस कंपनी के बारे में

3. Small cap

जिस कंपनियों की मार्केट capitalisation 5000 करोड़ से कम होती हैं वह कंपनियां Small cap के अंदर आती हैं  वह कंपनियां Small Cap के अंदर आती हैं

 इन कंपनियों के अंदर आने वाली कंपनियां शुरुआती समय होता है इसलिए नई कंपनियों में इन्वेस्ट करने से पहले एक बार आप सोच ले

 इन कंपनियों में नुकसान का मुनाफा दोनों ही ज्यादा होता है इन कंपनियों में निवेश करने से पहले कंपनी की पूरी जानकारी लेना आवश्यक है क्योंकि नई कंपनियां कब डूबे क्या पता इससे आपको बड़ा लॉस हो सकता है

यह तीन प्रकार के Cap होते हैं इनकी वजह से ही हम किसी भी कंपनी की कुंडली निकाल सकते हैं शेयर मार्केट में किसी भी कंपनी की जानकारी होना हमारे लिए आवश्यक है क्योंकि वह कंपनी कैसी हैं यह पता होना इन्वेस्टर के लिए जरूरी है इसलिए किसी शेयर को बाय करने से पहले इन Cap के मुताबिक आप उस कंपनी की वैल्यूएशन का पता लगा सकते हैं

शेयर मार्केट के लिए गणित क्यों आवश्यक है ?

शेयर मार्केट का गणित कई तरह की गणितीय अवधारणाओं के मुताबिक, और ग्राहक के आंकड़ों का आकलन करना शेयर बाजार में एक सफल इन्वेस्टर की दिशा है इसलिए शेयर बाजार में गणितीय अवधारणा का महत्व होता है

 शेयर बाजार का गणित विश्लेषण मैं बहुत मदद करता है उसके मुताबिक एक अच्छा शेयर खरीद ने के लिए गणितीय अवधारणाओं का बहुत महत्वपूर्ण योगदान है क्योंकि किसी भी कंपनी में 1 मिली सेकंड में बहुत बड़ा उछाल आ सकता है 

शेयर मार्केट में सफलता के लिए गणित का उपयोग कैसे करें 

शेयर मार्केट की गणित का सीधा और सरल जवाब है कि किसी भी कंपनी या व्यापार में आप ₹400 का जोखिम उठा रहे हैं तो आपको अनुमानित ₹500 या उससे ज्यादा का रिटर्न प्राप्त करने की हिम्मत होनी आवश्यक है 

और आप शेयर मार्केट के गणित का उपयोग करते हैं तो आप किसी भी व्यापार या शेयर बाजार खरीदने में लॉस का शिकार नहीं होंगे

कंपनी के बारे में रिसर्च

किसी भी कंपनी के शेयर बाय करने से पहले उस कंपनी की वैल्यूएशन और मार्केट केपीटलाइजेशन का पता होना एक इन्वेस्टर के लिए जरूरी है क्योंकि हम ऐसी वैसी कंपनियों के शेयर बाय कर तो लेते हैं लेकिन उनमें बहुत बड़ा लॉस हो सकता है इसलिए शेयर बाय करने से पहले जिस कंपनी के शेयर बाय करने हैं उस कंपनी का टोटल बायोडाटा आपके पास होना जरूरी है 

शेयर Buy करने से पहले उस कंपनी के बारे में पूरी रिसर्च कर ले

एक निर्धारित लक्ष्य बनाएं

किसी भी कंपनी के शेयर बाय करने के बाद आप उस पर एक टारगेट लगा सकते हैं कि इतने टाइम बाद या इतने परसेंटेज बढ़ने के बाद इस कंपनी के शेयर Sell कर दूंगा

चाहे वह कंपनी जितना भी बड़े लेकिन आपको एक निर्धारित समय तय करना जरूरी है

शेयर बाजार में पैसा कैसे लगाएं

अगर आपको पता नहीं है कि शेयर बाजार में पैसा कैसे लगाएं तो आप को बता दें कि शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने से पहले आपको कुछ चीजों की जरूरत होती है जैसे डिमैट अकाउंट बैंक, अकाउंट, नॉलेज डिमैट अकाउंट आईडी पासवर्ड, इन चीजों की जरूरत आवश्यक है क्योंकि शेयर मार्केट में निवेश हम डीमेट अकाउंट के बिना नहीं कर सकते

 अगर आपको शेयर बाजार से 1000 रूपया रोज कैसे कमायें? हमारी इस पोस्ट पर जा सकते हैं इस पोस्ट में शेयर मार्केट में इन्वेस्ट कैसे करें इसके बारे में पूरी जानकारी दी गई है

शेयर मार्केट में निवेश

शेयर मार्केट में निवेश करना एक बड़ा फैसला हो सकता है। यदि आप नए निवेशक हैं, तो इसे करने से पहले आपको विशेषज्ञ सलाह लेनी चाहिए। आपको विभिन्न शेयरों और कंपनियों की अध्ययन करनी चाहिए और उनके प्रदर्शन, आय, और वित्तीय स्थिति को ध्यान से देखना चाहिए।

शेयर मार्केट की समय-सीमा

शेयर मार्केट निरंतर चलने वाला बाजार है, जो दिनभर खुला रहता है। यह निम्नलिखित अवधि में विभाजित होता है:

  • प्राथमिक बाजार (बजार की खुलने की घंटा): 9:15 बजे से 3:30 बजे तक
  • निपटान बाजार (बजार की बंद होने की घंटा): 3:30 बजे से 4:00 बजे तक

शेयर मार्केट के नियम

शेयर मार्केट में कुछ महत्वपूर्ण नियम होते हैं जिन्हें निम्नलिखित रूप से समझा जा सकता है:

  • पहले खरीदें, बाद में बेचें
  • निवेश के लिए सही समय की पहचान करें
  • निवेश करने से पहले अच्छी तरह से अध्ययन करें
  • निवेश करने के लिए धनराशि की सीमा निर्धारित करें

शेयर मार्केट में सफलता

शेयर मार्केट में सफलता प्राप्त करने के लिए निम्नलिखित अंकों का ध्यान रखना चाहिए:

  • उच्च स्तर का धैर्य
  • ध्यान से निवेश करना
  • अध्ययन करना और अद्यतित रहना
  • समय के साथ निवेश पर नजर रखना

शेयर मार्केट का अनुभव

शेयर मार्केट का अनुभव एक रोमांचक और ज्ञानवर्धक अनुभव हो सकता है। यह निवेशकों को वित्तीय विश्लेषण, गणना, और रिस्क-प्रबंधन का एक माध्यम प्रदान करता है। शेयर मार्केट के माध्यम से निवेश करके, लोग वित्तीय स्वतंत्रता प्राप्त करते हैं और वित्तीय विकास के लिए संघर्ष करते हैं।

निष्कर्ष – शेयर मार्केट का गणित

दोस्तों आज आपने समझा कि शेयर मार्केट का गणित क्या होता है हमें उम्मीद है कि आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी हम रोजाना है यह उम्मीद करते हैं कि हम इस विषय में आपको ज्यादा से ज्यादा जानकारी दे सके

और हमें उम्मीद है कि यह पूरी जानकारी आपको अच्छी लगी होगी और हम दुआ करते हैं कि आपकी इन्वेस्ट जर्नी अच्छी रहे

 लेकिन आप अच्छी तरह से शेयर मार्केट करेंगे तो आपको रिटर्न बहुत अच्छा मिलेगा

(FAQ’s) – शेयर मार्केट का गणित समझे आसान भाषा में

क्या शेयर मार्केट के बारे में गणित जानना आवश्यक है?

हाँ, शेयर मार्केट के बारे में गणित जानना आवश्यक है क्योंकि यह आपको निवेश के नियमों, वित्तीय विश्लेषण, और रिस्क-प्रबंधन की समझ प्रदान करता है।

क्या मैं बिना गणित के शेयर मार्केट में निवेश कर सकता हूँ?

हाँ, आप बिना गणित के शेयर मार्केट में निवेश कर सकते हैं, लेकिन इससे आपके निवेश में ज्यादा रिस्क हो सकता है। गणित आपको वित्तीय स्थिति को समझने, निवेश के लिए सही समय की पहचान करने, और सबसे महत्वपूर्ण निवेश करने से पहले अध्ययन करने में मदद करेगा।

शेयर बाजार में ट्रेडिंग के लिए सबसे अच्छा प्लेटफार्म कौनसा है?

शेयर मार्केट प्लेटफॉर्म की कई विकल्प हैं और यह आपकी आवश्यकताओं और पसंद के आधार पर निर्भर करेगा। कुछ प्रमुख शेयर मार्केट प्लेटफॉर्म इंडिया में Zerodha, Upstox, ICICI Direct, HDFC Securities, और Sharekhan हैं।

क्या शेयर मार्केट में निवेश करना सुरक्षित है?

शेयर मार्केट में निवेश करना कुछ रिस्क के साथ आता है, लेकिन यह सुरक्षित भी हो सकता है अगर आप उचित वित्तीय विश्लेषण करें, पूर्वानुमान करें, और धैर्य से निवेश करें। आपके निवेश की सुरक्षा के लिए आपको एक अच्छी ब्रोकर का चयन करना चाहिए और विशेषज्ञों की सलाह लेनी चाहिए।

क्या शेयर मार्केट में छोटे निवेशकों के लिए मुनाफ़े कम होते हैं?

नहीं, यह गलत धारणा है कि शेयर मार्केट में छोटे निवेशकों के लिए मुनाफे कम होते हैं। शेयर मार्केट में मुनाफे आपके निवेश के प्रकार, समय अवधि, और निवेश के अच्छे तथ्यांकों पर निर्भर करेंगे। एक अच्छी रिसर्च और विश्लेषण के साथ, छोटे निवेशक भी मुनाफे कमा सकते हैं।

आशा है, यह आपके सवालों का संग्रह है और आपको शेयर मार्केट के गणित के बारे में अधिक समझ में मदद करेगा।

Leave a Comment